Search This Blog

Saturday, December 27, 2008

जप-ध्यान-तिथि

इन तिथियों पर जप/ध्यान करने का वैसा ही हजारों गुना फल होता है जैसा की सूर्य/चन्द्र ग्रहण में जप/ध्यान करने से होता है:

१. सोमवती अमावस्या - (23rd Jan'12, 18th June'12, 15th Oct'12)

२. रविवार को सप्तमी हो जाए. (15th Jan'12, 29th Jan'12, 27th May'12, 7th Oct'12, 21st Oct'12)

३. मंगलवार की चतुर्थी हो जाए.(10th Apr'12, 24th Apr'12, 8th May'12, 21st Aug'12, 4th Sep'12, 18th Sep,12)

४. बुधवार की अष्टमी हो जाए. (15th Feb'12, 29th Feb'12, 14th Mar'12,27th June'12, 11th July'12, 7th Nov'12, 21st Nov'12, 19th Dec'12 )
इन तिथियों पर जप/ध्यान का फल ग्रहण के समय किये ही जप/ध्यान के सामान होता है. इसलिए हमें इन तिथियों पर जादा जप करना चाहिए, जिस से हमें थोडे में ही जादा लाभ मिले
Listen Audio



--27th Dec'08, सुरत


सोमवती अमावस्या के दिन 108 बार अगर तुलसी की परिक्रमा करते हो, ओंकार का थोड़ा जप करते हो, सूर्य नारायण को अर्घ्य देते हो; यह सब साथ में करो तो अच्छा है, नहीं तो खाली तुलसी को 108 बार प्रदक्षिणा करने से तुम्हारे घर से दरिद्रता भाग जाएगी l



-- 19th Oct'09, अहमदाबाद




मंगलवार चतुर्थी- अंगार चतुर्थी को सब काम छोड़ कर जप-ध्यान करना ...जप, ध्यान, तप सूर्य-ग्रहण जितना फलदायी है...


  • बिना नमक का भोजन करें


  • मंगल देव का मानसिक आह्वान करो


  • चन्द्रमा में गणपति की भावना करके अर्घ्य दें
    कितना भी कर्ज़दार हो ..काम धंधे से बेरोजगार हो ..रोज़ी रोटी तो मिलेगी और कर्जे से छुटकारा मिलेगा
    --17th Jan'10, उज्जैन


    Special occasion for Japa and Meditation
    On these following days, performing recitation and meditation will bear thousand times more virtues similar to the benefits of performing them during a solar/lunar eclipse.

    1. Somvati Amavasya - (23rd Jan'12, 18th June'12, 15th Oct'12)

    2. Ravivari Saptami (15th Jan'12, 29th Jan'12, 27th May'12, 7th Oct'12, 21st Oct'12)

    3. Mangalvari Chaturthi (10th Apr'12, 24th Apr'12, 8th May'12, 21st Aug'12, 4th Sep'12, 18th Sep,12)

    4. Budhhvari Asthami (15th Feb'12, 29th Feb'12, 14th Mar'12,27th June'12, 11th July'12, 7th Nov'12, 21st Nov'12, 19th Dec'12 )

    Performing recitation and meditation on these days bear thousand times more virtues, similar to the benefits of performing them during a solar/lunar eclipse. So,we should also take advantage of these days so that we can earn more virtues with minimal effort.

    __ __ __ __ __

    On Somvati Amavasya, circling around Basil plant for 108 times and reciting AUM mantra for a while, offering oblations to Surya Narayan will drive away any level of poverty from your home. Even if you cannot do the rest, simply circling around Basil plant for 108 times will offer the same benefit.

    __ __ __ __ __

    On the eve of Mangalvaar Chaturthi - Angaar Chaturthi, one should leave aside all work and perform meditation and recitation. It offers the same virtue of doing japa-meditation during solar eclipse.

    - Take meals without salt.

    - Offer mental prayers to Mangal Lord.

    - Observe the image of Lord Ganesha in the moon and offer oblations. Irrespective of the financial dearth..or .. troubled with unemployment... You will not only settle down in a good job, but will also find yourself freed from the bondage of loans.

Friday, November 14, 2008

स्नान

गो-झरण से स्नान कराने से रोग नष्ट होंगे पाप नष्ट होंगे…स्नान में गो-झरण डाले…पंचगव्य से स्नान करने से पापनाशिनी उर्जा मिलती है

कभी बिलि के पत्ते से स्नान करो , कभी उबटन का स्नान करो..कभी गो-झरण का स्नान करो तो कभी दही लगा के स्नान करो… दही लगाके स्नान करने से लक्ष्मी प्राप्ति होती है ..ये सभी शरीर के लिए है….शरीर स्वस्थ रख के अंतरात्मा में आने के लिए ये सब है…

-13th Nov'08 Vadodara

भूख बढ़ाने के लिए

इन दिनों में अदरक , खजूर , सैंधा नमक और मिर्च की चटनी बना के भोजन से पहले खाए तो भूख अच्छी लगेगी॥

-13th Nov'08 Vadodara

भोजन के पहले थोडा सा अदरक, नमक, नींबू लगाकर थोड़ा खा लें, बाद में भोजन करें - आधा घंटा, पंद्रह मिनट के बाद, तो भूख अच्छी लगेगी और भोजन के बीच थोड़ा -थोड़ा पानी पियें |

- पूज्य बापूजी Shegaon 25th Feb' 2012

Listen Audio

काजू प्रयोग

पैरो की एडियों में दरारे हो, पेट में कृमि हो तो बच्चों को २/३ काजू शहद के साथ अच्छी तरह तरह से चबा चबा कर खाने दे…और बड़े है तो ५/७ काजू…..कृमि,कोढ़, काले मसुडो आदि में आराम होगा |
काजू प्रयोग से मन भी मजबूत होता है
-13th Nov'08 Vadodara

Thursday, November 13, 2008

मन की शान्ति

मोर पंख आसन के नीचे रखने से मन में शान्ति मिलती है, ध्यान भजन में मन लगता है
-13th Nov'08 Vadodara

स्मृति रक्षा

नंगे सिर धूप में ना घुमे, स्मृति शक्ति कमजोर होती है |
-12th Nov'08, Vadodara

रसायन कल्प

त्रिफला + तिल का तेल + शहद संभाग मिलाकर रख ले…रोज १० ग्राम खा के गुनगुना पानी पिए… पेट की तकलीफ , मासिक तकलीफे और दमे की तकलीफे दूर होगी….
ऐसा १ महीने लेने से शरीर का शोधन हो जाता है …और ३ महीने करो तो चेहरे पे चमक आ जायेगी -एक रसायन कल्प हो जाता

-12-13th Nov'08, Vadodara

नेत्र ज्योति अच्छी रखने के लिए

  • नेत्र ज्योति बढ़ने के लिए कालीमिर्च(पाउडर)+ घी और शहद मिलाकर चाटो तो नेत्र ज्योति अच्छी रहेगी |
  • सोते समय इरन्डी तेल का आज्ञाचक्र पे तिलक कर के सो जाओ तो नेत्र ज्योति अच्छी रहेगी

-11th Nov'08, Vadodara

दमा के लिए

नारियल की जटा जलाकर रख कर ले ...कप्पड़ छान कर दे, थोडी राख शहद के साथ १ महीने तक ले, दमा चला जायेगा|

Asthma

Burn coconut jute fiber till it turns into ashes. Sieve these ashes through a piece of cloth. Consume a bit of this ash along with honey for a month. Asthma will get cured.
-11th Nov'08, Vadodara

कानों की श्रवण शक्ति

रोज कड़वा तेल (सरसों का तेल ) की बूंदे कान में डालो और उंगली घुमाये तो जिंदगी भर आप अच्छे से सुन पाएंगे।
-11th Nov'08, Vadodara

होंठ फटने पर

जिन के होंठ फटते है, वो नाभि में तेल डाले, तो होठ नही फटेंगे।
एक बूंद नाभि में सरसों का तेल डालो | सुबह डाल दे, सनान के पहले |

Listen Audio
-11th Nov'08, Vadodara

Monday, November 10, 2008

तुलसी कब नहीं तोडें?

१२ बजे के बाद तुलसी नही तोड़ना चाहिए , फूल पत्ते भी नही तोड़ना चाहिए… तुलसी के पत्ते ७ दिन तक बसी नही माने जाते …
-9th Nov'08, Vadodara

Height बढ़ाने के लिए

बिलि(बिल्व/बेल) के पत्ते ६ और २ काले मिर्च चबा के खाए अथवा मिक्सी में पीस के खिलाये ..इस से height बढ़ती है ..जिन का कद नही बढ़ता तो उन को खिलाये..!
Listen Audio


-9th Nov'08, Vadodara


जिन बच्चों का कद नहीं बढ़ता, वे पुलप्स (pull-ups) का अभ्यास करें और बेल के 6 पत्ते व 2-4 काली मिर्च हनुमानजी का स्मरण करते हुए चबाकर खायें उस में पानी दाल के पीसकर भी खा सकते हैं (12 साल से 18 साल तक के बच्चे यह प्रयोग कर सकते हैं )



-Rishi Prasad Dec'08

मन्दिर में light कैसी हो

शिव मन्दिर में लप- झप कराने वाली light है तो शिव दर्शन से दूर करती… लप-झप करानेवाली lights मन्दिर में, पूजा के जगह पे रखना नुकसान का काम है, फायदा नहीं ... चंचलता बढ़ेगी……

-9th Nov'08, Vadodara

Tuesday, November 4, 2008

कार्तिक मास में जप

कार्तिक मास ( 30th Oct' 2012 to 28th Nov' 2012) में अपने गुरुदेव का सुमिरन करते ही जो " नमो नारायणाय" का जप करता है, उसे बहुत पुण्य होता है |

आर्थिक परेशानी हो तो

आर्थिक परेशानी हो, तो सतत शुक्रवार महा-लक्ष्मी के मन्दिर में धूप-दीप दान करें; अपना पुरुषार्थ भी करें, लाभ होगा |

Monday, November 3, 2008

Special days for Japa-Dhyan

Pujya Bapuji advises us to do more Jaap, Dhyan, Maun, Daan, Upwaas, Anushtaan on the following important Tithiyaan (dates) in 2012-

युग के आरम्भ दिवस
----------------------------------
22 Nov 2012 - सतयुग (कार्तिक शुक्ल नवमी)
21 Feb 2012 - द्वापर युग (माघ अमावस्या)
24 April 2012- वैशाख शुक्ल तृतीया
- कलियुग -(भाद्रपद कृष्ण त्रयोदशी)

विष्णुपदी संक्रांति
-------------------------------
15 November 2008
12 February 2009


For more details visit www.hariomgroup.org/audio> Latest Satsang MP3. Listen to the Latest Laabh Pancham Satsang (Nov 02 2008) Part # 6

Friday, October 24, 2008

दरिद्रता नष्ट करने के लिए

ॐ कार मन्त्र का ६० दिन अनुष्ठान किया, सूर्य नारायण को सफेद गाय के ढूध से बनी खीर का भोग लगाया तो ७ जन्मो का दरिद्रता नष्ट हो जाती है …बिलकुल पक्की बात है…. रामचंद्र भगवान की जय !

… स्वाभाव भी सुन्दर होगा…


-23rd Oct'08, Sumerpur

सुखी समृध्द जीवन

अपने घरो में vibration गंदे हो गए अशांति के , रोग के कण बढ़ गए तो
  • सूर्य नारायण को अर्घ्य दो,
  • तुलसी माता के पत्ते खाओ
  • घर के पश्चिम में पीपल का वृक्ष लगाओ…(नही है तो भी जहा हो वह प्रार्थना करो)…
सुखी समृध्द जीवन होगा….

-23rd Oct'08, Sumerpur

दुर्गति से रक्षा

किसी व्यक्ति की मृत्यु हो रही हो तो उस के मुंह में गाय का दही दाल दो तो उस की दुर्गति नही होगी…. घरवालो को और आस पड़ोस को बोल देना की कोई मरे तो गंगाजल है तो ठीक नही तो गाय की दही दाल दे… दुर्गति नही होगी…

-23rd Oct'08, Sumerpur

गाय की औरा

रोगी व्यक्ति अगर गाय के पीठ पे हाथ घुमाए और गाय खुश होवे तो सुवर्ण किरणे हवा में छोड़ती है जिस से रोगी ठीक हो जाता है…।

-23rd Oct'08, Sumerpur

कमजोरी आये तो

कमजोरी आए तो ये करना…. कोई भी दवा की जरुरत नही है…
  • सूर्य नारायण के किरणों में /१० मिनट बैठे
  • तुलसी माता के नजदीकी,
  • गाय के पीठ पर ज़रा सा हाथ घुमाना
बस!कोई दवा की जरुरी नही!!

…डॉक्टर बोल दे की , “अब ये ठीक नही होगा”….ऐसे ऐसे भी ठीक हो गए ऐसी भगवान की वाणी है!…।

-23rd Oct'08, Sumerpur

Wednesday, October 22, 2008

क्लेश कम करने के लिए

पोछा लगाते हैं घर में तो उस पानी में सैंधा नमक और थोड़ा गो-झरण दाल दे तो घर में क्लेश कम होता और शान्ति बढ़ती है..
-21st Oct'08, Revadar

स्वस्तिक से सुरक्षा


जिन के घर में क्लेश हो , वे अपने घर में ९ /९ (९ इंच लंबा -९ इंच चौड़ा) का स्वस्तिक बना के दीवार पे लगाए... ....उस के घर में अशुभ और अमंगल नही होता।
-21st Oct'08, Revadar

Monday, October 20, 2008

मिठाइयों से सावधान

दीवाली में मिठाइयाँ नपी-तुली खाना….स्वामी विवेकानंद बोलते कि , “मिठाई के दुकान साक्षात यमदूत की दुकान है!!” विवेकानंद की बात से हम सहमत है…. कोई जरुरी नहीं शरीर को मिठाईयों की….. स्वास्थ्य के लिए रोटी, सब्जी , दाल , फल खाते ये पर्याप्त है….. बाकी फालतू है…. रसगुल्ले तो दुश्मन को भी नही खिलाये! …कलकत्ता में छेना ज्यादा चलता तो स्वास्थ्य भी क्षीण है …और इडली डोसा ...पेट ख़राब कराने का एकदम सीधा रास्ता….. किसी को slow poisoning देना है ना तो इडली डोसा खिलाये…. और किसी को मीठा जहर देना हो तो “कुरकुरे” दे दो!! ये चीजे स्वास्थ्य के लिए बहुत नुकसान करते ..इन से बचो…
बाजार में बेसन की मिठाई मिलती.. तो बेसन ४० रुपये किलो है और चावल का आटा १८ रुपये किलो ..तो मिठाई दोनों को मिक्स कर के बनाते तो और भी सत्यानाश है…. बाजारू मिठाई से सावधान रहे… नपी-तुली खाना …।
पटाखों से भी परहेज करना..
-19th Oct'08 Amdavad

पाप वृध्दि रोकने हेतु

“ॐ नमो नारायणाय ”
“om namo narayanaay”

ये मन्त्र पानी में देखकर २५ बार जपे और वो पानी पिए तो पाप वृध्दि नही होगी…और काम में सिध्दि होती है…
-19th Oct'08 Amdavad

ध्यान में आनेवाली बाधाएं


ॐ हौं तं जुहोमि स्वाहा
Om haum tam juhomi swaha

ये मन्त्र जपने से ध्यान में आनेवाली बाधाएं मिटेंगी… हे विघ्न बाधा , मै तुम्हारा ज्ञान अग्नि में हवन करता हूँ…। उस में स्वाहा कर देता हूँ…॥ ५ बार मन में ये जप कर लेना …।जिस से ध्यान की विध्न बाधा स्वाहा हो जाए॥

-19th Oct'08 Amdavad

आधि व्याधि से बचने के लिए

आधि व्याधि से बचने के लिए शनिवार के दिन पीपल का स्पर्श हितकारी माना गया है. आधि = मन के विकार माने काम , क्रोध आदि से बचना हो तो और व्याधि माने शरीर के रोग ..आधि व्याधि से बचने के लिए शनिवार को पीपल को स्पर्श करे और

ॐ हौं जूं सः
ये मन्त्र की एक माला रोज ऐसे २१ दिन जप करे..
तो आधि माना मन के रोग और व्याधि माना शरीर के रोग मिट जायेंगे…इस मन्त्र में ४ बीज मन्त्र है..फायदा जरुर होता है

-19th Oct'08 Amdavad

Sunday, October 19, 2008

कपूर मिश्रित जल

गो चंदन अगरबत्ती गाय के घी में डुबो के जला देते तो भी गाय के गोबर के कंडे जैसा परिणाम देगा …. कभी मै उस में कपूर भी रख देता…. कभी कभी कपूर मिश्रित जल कमरे में छिटक देना भी हितकारी माना जाता है ….कपूर पानी में डाल के वो पानी कमरे में छिटक दे…..

Related Post - शुद्ध हवा

-17th Oct'08, Amdavad

बल, बुद्धि बढ़ाने के लिए

विद्यार्थियों के बुध्दि बढ़ाने के लिए बेल के पत्ते , पलाश के पत्ते और मिश्री( शक्कर)सब को सम भाग मिलाकर उस की पाउडर कर ले और उस का धूप करे ….गोबर कंडा जला दिया उस के ऊपर वो धूप दाल दिया..अथवा तो २/३ कोयले जला दिए और उस पे वो धूप दाल दिया….बहुत फायदा होगा…॥ इससे सबसे पौष्टिक आहार शुद्ध वायु मिलेगी, तो स्वास्थ्य, बल, बुद्धि में अद्भुत फायदे होते हैं |

-17th Oct'08, Amdavad

Friday, October 17, 2008

केश मुलायम करने के लिए

गो-झरण से बाल धोने से बाल रेशम जैसे मुलायम होने लगते

-12th Oct'08, Faridabad

Gastic problem

  • वायु सम्बन्धी(gastic problem) बीमारी /दोषों को दूर कराने के लिए गहरा श्वास लेकर मन में ये मन्त्र बोले
नासै रोग हरे सब पीरा
जपत निरंतर हनुमत बलबीरा
श्वास छोड़ दे.ऐसा करे तो वायु सम्बन्धी रोगों में आराम मिलेगा .
  • लीटर पानी को , जब ७५० मिली बच जाए तो वो पानी पीने में लाये - वायु सम्बन्धी बीमारी में आराम होगा
  • स्नान करते समय पानी में बेलपत्र डालकर नमःशिवाय / बार जप कर के फिर रगड़ के स्नानकरे।(मग्गे भर पानी में बेल-पात्र मसलकर उस से शरीर को रगड)
-12th Oct'08, Faridabad

बच्चो का विकास

अपने बच्चों को भगवान की या गुरु की तरफ़ ६ मिनट एकाग्र देखने का अभ्यास कराये, कंठ में ओमकार (ॐ) बोलते हुए गर्दन आगे पीछे करते हुए भ्रामरी प्राणायाम रोज २ बार करवाए. अद्भुत परिवर्तन होते है, हुए हैं।

-12th Oct'08, Faridabad

मणिपुर केन्द्र कैसे विकसित करें?

सूर्य को अर्घ्य देते समय नाभि में सूर्य का ध्यान कराने से मणिपुर केन्द्र ( ७ केन्द्रों का तीसरा केन्द्र) विकसित होगा। जीवनी शक्ति में लाभ होगा |

How to enhance your Manipura center
While offering oblations to Sun Lord, meditating on Sun at your navel helps augment the powers of Manipura center (Third center of the seven centers). This improves zest for life.

-12th Oct'08, Faridabad

तुलसी तोड़ने हेतु मंत्र

द्वादशी , अमावस, पूनम और रविवार को तुलसी के पत्ते ना तोडें . बाकी दिन

सुप्रभाय नमः , सुभद्राय नमः
ये बोलते हुए तुलसी पत्ते तोड़ो तो ये मन्त्र बोलनेवाले का स्वाथ्य/ तबियत ठीक करेगा
जब भी तुलसी का पत्ता तोड़ो तो सूर्यास्त के बाद नही तोडे और सूर्योदय के पहेले नही तोड़े..


घर के इशान कोण में तुलसी और भी शुभ मानी जाती है. इस का लाभ जरुर लें

Mantra while plucking Basil leaves

Never pluck Basil leaves on Dwadashi, Amavasya, Poornima and sundays.On all other days, recite
 AUM SUPRABHAAYA NAMAH
 AUM SUBHADRAAYA NAMAH

and then only pluck the leaves. On doing so, you shall maintain good health. Also, never pluck its leaves after sunset or before sunrise.

Keeping a Basil plant in the north-eastern side is considered very holy.Please take benefit of this fact.
Listen Audio

- Shri Sureshanandji October 2008, Faridabad

Thursday, October 16, 2008

कोमा से बाहर आने के लिए

२० बूँद तुलसी के रस में १ चुटकी सैंधा नमक , मरीज के नाक में डाल दें और `एं एं` जपते हुए तिल के तेल से सर की मालिश करें और पैरों के तलवों पर भी तिल या सरसों के तेल की मालिश करें ।

मरीज को AC me न रखे और फलो का रस (Fruit Juice) न दे... जरुरत पड़े तो मूंग का पानी दे.

-Satsang

Wednesday, October 15, 2008

परीक्षा को जाते समय

परीक्षा को जाते समय बच्चो के हाथ पर दही और शक्कर मिलकर खिलाये और माथे पर केसर का तिलक करे|
12th October 2008, Faridabad.

बुध्दि बढ़ाने के लिए

बच्चे पढ़ने में ढीले हो तो बुध्दि बढ़ाने के लिए सारस्वत्य मन्त्र २१ बार पढ़के बिल्व-पात्र, पलाश के पत्ते और शक्कर मिलाकर उस का हवन करे|
12th October 2008, Faridabad.

पढ़ते समय नींद?

जिन बच्चो को पढ़ते समय नींद आती हो या आलस्य आता हो तो उन के कमरे में हरे रंग के के परदे लगाना चाहिए।
-12th October 2008, Faridabad.

हास्य प्रयोग

हास्य प्रयोग से रोग प्रतिकारक शक्ति बढाती है, tumor की वृध्दि नही होती, glucose नियंत्रण होता है, हास्य में भगवान का नाम हो तो बहुत कल्याणकारी है|

12th October 2008, Faridabad.

अपाचन हो तो?

अपाचन बढ़ा तो अजवाइन, सौंठ और काली मिर्च का मिश्रण करके वो पाउडर एक चुटकी ले तो पाचन ठीक होगा...सुबह ले ले और २/३ घंटे बाद भोजन करे...

Indigestion :-

If suffering from indigestion, then take a pinch of mixture made of Celery( ajwain), dry ginger and black pepper. This will aid the digestion process. Take it in the morning and have your meals 2-3 hours later.
12th October 2008, Faridabad.

स्वस्थ्य की युक्तियां

  • रात्रि को गोभी खाना -गो-मांस खाने से भी ज्यादा हानिकारक है|
  • रविवार को अदरक -आरोग्य को हानि करता है|
  • धूप से आकर पानी पीने से स्वास्थ्य बिगड़ता है (पेशाब की बीमारी नही मिटती) |
  • लोहे के बर्तन में दूध उबालकर पीने से रक्त बढ़ता है|
  • सरसों की साग स्वास्थ्य के लिए अच्छी नही|
  • उड़द की दाल स्वस्थ्य के लिए नुकसान करती है, मूंग की दाल फायदा करती है|
  • रसगुल्ला , पनीर ये tumor का सामान है , बीमारी का सामान है |
Valuable health tips :-

- Consuming cauliflower at night is worse than eating beef.
- Having ginger on sundays can be harmful for your health.
- Drinking water after immediately coming in from the sun causes health to degrade. (Urinary problems will persist).
- Drinking water boiled in iron containers helps improve blood formation.
- Mustard Spinach is not considered good for health.
- Urad daal is harmful to health whereas moong daal is considered beneficial.
- Eating rasgulla and paneer (cottage cheese) are equivalent to tumours for the body, can only lead to diseases.
12th October 2008, Faridabad.

Monday, September 8, 2008

Mantra for protection from risks and threats

Below is the MANTRA meant for defence personnel as well as civilians for protection from any kind of risk, threats and contingencies at any facet and phase of life.

Daily 1 Mala has to be done.
उग्रं वीरं महाविश्नुम, जवलन्तम सर्वतोमुखं !
न्र्सिम्हम भीशानम भद्रं, मृत्यु-मृत्युम नामाम्यहम !!

Ugram veeram mahavishnum, Jvalantam Sarvatomukham !
Nrsimham bheeshanam bhadram, Mrtyu-mrtyum namaamyaham !!

Meaning: I bow down to Narasimha, who is the ferocious, valorous, great Vishnu, resplendent with faces in all directions; the One who frightens and also who ensures welfare, and the One who is the death of Death।
-Holi Shivir, 2002

Sunday, September 7, 2008

शक्तिशाली व गोरे पुत्र प्राप्ति के लिए

गर्भिणी स्त्री ढाक (पलाश) का एक कोमल पत्ता घोंटकर गौदुग्ध के साथ रोज़ सेवन करे | इससे बालक शक्तिशाली और गोरा होता है | माता-पीता भले काले हों, फिर भी बालक गोरा होगा | इसके साथ सुवर्णप्राश की २-२ गोलियां लेने से संतान तेजस्वी होगी |

Listen Audio

-Satsang

सुखपूर्वक प्रसवकारक मंत्र

ऍ ह्रीं भगवती भगमालिनि चल चल भ्रामय भ्रामय पुष्पं विकासय विकासय स्वाहा |


इस मंत्र द्वारा अभिमंत्रित दूध गर्भिणी स्त्री को पिलाने से सुखपूर्वक प्रसव होता है | दूसरा उपाय है गर्भिणी प्रसव के समय स्वयं 'जम्भला-जम्भला' जप करे | तीसरा उपाय है देशी गाय के गोबर का १२ से १४ मि.ली. रस लेकर उसमें निहारते हुए 'ॐ नमो नारायणाय' मंत्र का २१ बार जप और 'श्रीगुरुगीता' के कुछ श्लोकों का पाठ गर्भिणी स्त्री स्वयं करे या कोई अन्य करे और गर्भिणी स्त्री को वह रस पिलाये | इससे भी प्रसव-बाधाएं दूर होंगी और बिना शल्यक्रिया के सुखपूर्वक प्रसव होगा |


प्रसूति के समय अमंगल की आशंका हो तो सर्वकल्याण के लिए निम्न मंत्र का जप करें:


सर्वमंगलमंगल्ये शिवे सर्वर्थासाधिके |
शरण्ये त्रयाम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते
||


(श्रीदुर्गासप्तश्ती)
(Rishi Prasad)




नारी सौभाग्याकरण मंत्र

जो श्रद्धावती प्रतिदिन स्नान आदि से शुद्ध होकर सूर्योदय से पहले 'ॐ ॐ ह्रीं ॐ क्रीं ह्रीं ॐ स्वाहा | ' इस मंत्र की दस मालायें करती है, उसके घर में सुख-समृधि स्थायी रहती है | इस मंत्र का जप शुभ मुहूर्त में प्रारम्भ करना चाहिए | प्रतिवर्ष चैत्र और आश्विन के नवरात्रों में वटवृक्ष की समिधा से विधिपूर्वक हवन करके कन्या, बटुक (ब्रह्मचारी) आदि को भोजन से संतुष्ट करे | इस मंत्र के सम्यक अनुष्ठान से घर का सुख, शान्ति तथा समृद्धि बनी रहती है |
-Ashram Book KalyanNidhi

Monday, August 25, 2008

स्वप्न दोष, प्रदर रोग की बीमारी

कई लोगो को प्रदर रोग , पानी पड़ने की बीमारी हो जाती…तो आँवले का चूर्ण १०० ग्राम २५ ग्राम हल्दी मिला दो..फिर ३/४ ग्राम सुबह और ३/४ ग्राम शाम को फांक लेने से स्वप्न दोष , प्रदर रोग की बीमारी ठीक हो जाती, गाल बैठे हो तो ठीक हो जाता॥

- 24th August 2008, Surat

आँखों मे जलन, पाचन कमजोर हो तो?

जिनके आँखों मे जलन होता हो अथवा पाचन कमजोर हो तो वरियाली और शहद मिलाकर थोड़ा खाना तो पाचन ठीक होता है..

--24th August 2008, Surat

Friday, July 18, 2008

Powerful Mantra

Hari Om
Today (18th July 08) morning,
Pujya Bapuji has has given a powerful mantra to overcome sudden difficulties and mishaps.
The mantra is "Om Hrim Om". ( ॐ ह्रीं ॐ )
Chanting of this powerful mantra, given by Pujya Bapuji on the auspicious day of
Guru Poornima will also definitely stop the bhraamak prachaar
and would give sadbuddhi to all.
So start chanting this mantra as much as possible.

Om Hrim Om ............................... ॐ ह्रीं ॐ

Thursday, July 17, 2008

सर्व विघ्न शान्ति मंत्र

 नमो सिद्धि विनायकाय गुरुकुल आश्रमे शांति कर्तरे सर्व विघ्न प्रशम्नाय श्री  स्वाहा ||

om namo siddhi vinaayakaaya gurukul ashrame shaanti kartare sarva vighna prashamnaaya shree om swaha





Sunday, July 6, 2008

विद्या लाभ के लिये मंत्र

ॐ ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं वाग्वादिनि सरस्वति मम जिह्वाग्रे वद वद ॐ ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं नमः स्वाहा |
  • इस मंत्र को आषाढ़ मास मे जब उत्तराषाढ़ा नक्षत्र हो तब अर्थात २५ जुलाई २०१०  को रात्रि के समय  सुबह ७  से ८  बजे के बीच १०८ बार जप लें |
  • फिर इसी दिन की रात्रि के समय ११ से १२ बजे के बीच जीभ पर सोने की सलाई से अथवा चांदी की सलाई से, लाल चंदन से ह्रीं लिख दे |
  • जिसकी जीभ पर यह मंत्र इस विधि से लिखा जायेगा, उसे विद्या लाभ तथा विद्वत्ता की प्राप्ति होगी |
  • बच्चे यदि छोटे है तो अभिभावक को चाहिये कि बच्चे को गोद मे लेकर बैठे , और १०८ बार इस मंत्र का जप करे | मंत्र बोलते समय मम के स्थान पर बच्चे के नाम का उच्चारण करे (नीचे उदाहरण देखे) | जप करने के पश्चात सोने की अथवा चांदी की सलाई से, लाल चंदन से बच्चे की जीभ पर ह्रीं लिखे |
  • उदाहरणः जैसे मेरे पुत्र का नाम राकेश है, और मैं उसके लिये जप करना चाहता हूं | तो मै मंत्र बोलुंगाः "ॐ ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं वाग्वादिनि सरस्वति राकेशस्य जिह्वाग्रे वद वद ॐ ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं नमः स्वाहा |"
  • सभी लोग इसका लाभ लें तथा दूसरो को दिलावें |
- पूज्य बापूजी

Monday, June 30, 2008

दरिद्रता दूर करने का उपाय

भविष्योत्तर पुराण मे आता है कि , जेष्ठ ये लक्ष्मी की बहन है …लक्ष्मी जी शनिवार को बहन को मिलने आती है…. जेष्ट उर्फ दरिद्रता… इसलिए शनिवार को दूध आदि से पीपल के वृक्ष का पूजन, परिक्रमा करते है..तो पूजन करनेवाले जेष्ठ नहीं रहते श्रेष्ठ हो जाते है….इसलिए आश्रम मे शनिवार के दिन बहुत शधक पीपल-बादशाह की परिक्रमा करते है…पीपल वृक्ष पे बापूजी ने शक्तिपात भी किया है

-Shri Sureshanandji 29th June 08 Indore

Monday, June 9, 2008

अनुष्ठान शुरू करने के दिन

शुभ दिन:
सोमवार, बुधवार, गुरूवार, शुक्रवार और रविवार
शुभ तिथि :
दूज, तीज, पंचमी, सप्तमी, दशमी, द्वादशी और त्रयोदशी. ( २,३,५,७,१०,१२,१३)

इन बताये गये दिनों और तिथि में अनुष्ठान शुरू करने में कोई बाधा नहीं होती और हमारा संकल्प पूरा होता है।

Pious days to start anusthaan

Pious days:
Monday, Wednesday, Thursday, Friday and Sunday

Pious Tithis:
Dooj, Teej, Panchami, Saptami, Dashami, Dwadashi and Trayodashi (2,3,5,7,10,12,13th lunar days)

Starting anusthaan on these days and tithis helps avoid any obstacles during the anusthaan and also grants fulfillment of desires.

Listen Audio

- Shri Sureshanandji Ajmer 2008

Thursday, May 22, 2008

व्रत विवेक(कौन से वार को व्रत करने से क्या लाभ ?)

सोमवार का व्रत...उग्र है तो , क्रोध आदि दुर्गुण मिटाने के लिए
मंगलवार का व्रत... शांति पाने, धन का अभाव मिटा ने
बुधवार का व्रत... ज्ञान विकसित करता है.. बुद्धि बढ़ाने के लिए
गुरुवार का व्रत... बुद्धि का व्रत है..बुध्दि का छिछरापन दूर करेगा...मन की चंचलता दूर करने
शुक्रवार का व्रत... ओज की रक्षा करेगा..वीर्यवान होने के लिए, स्वप्नदोष...प्रदर रोग ki बीमारियाँ मिटाने के लिए
शनिवार का व्रत... सांसारिक आपदाओं से रक्षा करता है.. हनुमानजी के लिए
रविवार का व्रत... स्वास्थ्य के लिए करते...सूर्य का ध्यान करे.. आरोग्य प्रदायक मन जाता.... व्रत ना करे तो ध्यान से भी आरोग्य मिलाता...
Listen Audio

- 19th May 08, Haridwar

Wednesday, May 21, 2008

ससुराल मे कोई तकलीफ

किसी सुहागन बहन को ससुराल मे कोई तकलीफ हो तो शुक्ल पक्ष की तृतीया को उपवास रखे…उपवास माने एक बार बिना नमक का भोजन कर के उपवास रखे..भोजन मे दाल चावल सब्जी रोटी नही खाए, दूध रोटी खा ले..शुक्ल पक्ष की तृतीया को..अमावस्या से पूनम तक की शुक्ल पक्ष मे जो तृतीया आती है उस को ऐसा उपवास रखे…नमक बिना का भोजन(दूध रोटी) , एक बार खाए बस……अगर किसी बहन से वो भी नही हो सकता पूरे साल का तो केवल
  1. माघ महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया,
  2. वैशाख शुक्ल तृतीया और
  3. भाद्रपद मास की शुक्ल तृतीया
जरुर ऐसे ३ तृतीया का उपवास जरुर करे…नमक बिना करे….जरुर लाभ होगा…
..ऐसा व्रत वशिष्ठ जी की पत्नी अरुंधती ने किया था…. ऐसा आहार नमक बिना का भोजन…. वाशिष्ठ और अरुंधती का वैवाहिक जीवन इतना सुंदर था कि आज भी सप्त ऋषियों मे से वशिष्ठ जी का तारा होता है , उन के साथ अरुंधती का तारा होता है…आज भी आकाश मे रात को हम उन का दर्शन करते है…
..शास्त्रो के अनुसार शादी होती तो उनका दर्शन करते है….. जो जानकर पंडित होता है वो बोलता है…शादी के समय वर-वधु को अरुंधती का तारा दिखाया जाता है और प्रार्थना करते है कि , “जैसा वशिष्ठ जी और अरुंधती का साथ रहा ऐसा हम दोनों पति पत्नी का साथ रहेगा..”
ऐसा नियम है….
चन्द्रमा की पत्नी ने इस व्रत के द्वारा चन्द्रमा की एनी २७ पत्नियों मे से प्रधान हुई….चन्द्रमा की पत्नी ने तृतीया के व्रत के द्वारा ही वो स्थान प्राप्त किया था…तो अगर किसी सुहागन बहन को कोई तकलीफ है तो ये व्रत करे….उस दिन गाय को चंदन से तिलक करे… कुमकुम का तिलक ख़ुद को भी करे उत्तर दिशा मे मुख कर के …. उस दिन गाय को भी रोटी गुड़ खिलाये॥

Listen Audio
- 19th May 08, Haridwar

गुरुदेव के लिए शुभ संकल्प

साल मे एक दिन ऐसा आता है… महाशिवरात्रि(20th Feb' 2012) के दिन पौने १२(११.४५) से १२ तक सब साधक निश्चित कर ले एक समय ... और संकल्प करे कि , हम महा-मृत्युंजय का जप करते है इस समय पर….इस के पुण्य से कृपा सिंधु गरूदेव के चरणों मे अर्पित करते है…उन की आयु लम्बी हो और देश को , लाखो करोड़ो लोगो को उनका ज्ञान मिले ..”
..ऐसी गुरुदक्षिणा गुरुदेव के चरणों मे चढाये ..कितना अच्छा होगा…..ये गुरुदेव ने नही कहा, मैं ही कह रहा हूँ…ओर आप महाशिवरात्रि को जप करते तो आप को भी बहुत लाभ होंगे॥
-Shri Sureshanandji 19th May 08, Haridwar

Monday, May 19, 2008

गर्भवती महिलाओ के लिए

गर्भवती महिलाओ को तकलीफ है, डॉक्टर बोले गर्भ कमजोर है, तो वो abortion के चक्कर मे नही पड़ना..सुवर्ण भस्म की १/२ गोली रोज खाए...सुवर्ण-प्राश की गोली खाना..ऑपरेशन नही कराये...
प्रसूति मे प्रॉब्लम आया , कैसा भी भयंकर प्रॉब्लम बताये डॉक्टर तो भी डरना नही...ऑपरेशन नही कराये..१०/१२ मिलीग्राम देसी गाय का गोबर का रस ले, उस मे देखते हुए "नारायण नारायण" २१ बार जप कर के गर्भिणी को पिलाये..1 घंटे मे प्रसूति हो जायेगी..
नही हुआ तो वापस पिला दे १ /२ घंटे मे जरुर हो जायेगी...

- 14th May 08, Dehradoon

Friday, May 16, 2008

गुंजन-ध्यान प्रयोग

भय नाशन दुरमति हरण कलि मे हरि को नाम
निश-दिन नानक जो जपे सफल होवई सब काम
हरि हरि .....
जनम जनम भरमत फिरयो मिट्यो मनको त्रास
कहे नानक हरि भज मना निर्भय पावहि वास
हरि हरि ॐ .....
आप जब हरि बोलते तो उच्चारण करते तो बीज मन्त्र है ...जीवनी शक्ति बढ़ती है.. मानवी ओरा पाशवी अंश दूर होता है..हरी का
उच्चारण करे , आँख की पुतली हिले..रोज सुबह शाम...४० दिन मे मंगल ही मंगल होगा....
- 13th May 08, Dehradoon

किडनी की तकलीफ

किडनी की तकलीफ के लिए साटे (पुनर्नवा) की सब्जी अथवा रस ५० ग्राम रोज पिया करो ...
जिस को ज्यादा तकलीफ हो उस के मकई(भुट्टे) के कुदरती बालों का कवर ५० ग्राम मसल कर लीटर पानी मे उबले लीटर हो जाए तो वो पानी पिए..करोडो लोगो को इस से लाभ होता...
- 13th May 08, Dehradoon

वायु की तकलीफ

. गाय के दूध से कोलेस्ट्रोल नही बढ़ेगा..काली गाय का दूध वायु नाशक होता है..

. देसी आम पाचन मे अच्छा और वायुनाशक और बुढ़ापे को दूर रखता है..कलमी आम नही.

.बड़ी उमर मे वायु की तकलीफ सभी को होती है..वायु से घुटने का दर्द , डकार आदि ५२ प्रकार की वायु की बीमारियाँ होती है...इस पर एक प्राकृतिक इलाज है..
नीम के पत्ते १२ से १५ ग्राम.. कोमल नीम के पत्ते+ एक/दो कला मिर्च सुबह चबा के पानी पिए और रात को ५० ग्राम गुड + १० ग्राम देसी घी मिलाकर खाए....

- 13th May 08, Dehradoon


बच्चों को कैसे नींद से उठाये?

बच्चों को कैसे नींद से उठाये?
बच्चो को नींद से उठाने के लिए , “ए ६ बज गए , स्चूल जाना है…” ऐसे नही उठाओ या अलार्म से भी ना उठाओ….
first impression is the last impression..!! जो सुबह जागते ही बच्चा देखेगा उसी का प्रभाव उस पर पूरा दिन रहेगा….तो अपने प्यारो को इस प्रकार से जगाओ नींद मे से ..:-
जागो मोहन प्यारे….. जागो प्रभु के दुलारे!”
“….प्यारी…. लाली.. दुलारी जागो..प्यारी..” बच्ची को भगवन के स्नेह से जगाओ …उनका अंत:करण रसमय होगा…विधेयात्मक होगा..तू-तड़ाके की भाषा से नही जगाओ..
- 13th May 08, Dehradoon

घर मे झगड़े

घर मे झगड़ा हो तो कैसे मिटाए?
घर का जो मुखिया है वो रात को सोते समय पलंग के नीचे पानी का लोटा भर के रखो सुबह उस मे देखते हुए नारायण-
नारायण बोलो ओरा नहा धोकर वो जल पीपल या तुलसी को चढाओ, ये सावधानी रखे कि पानी पर किसी का पैर न पड़े ..बस घर के तमाम झगडे खत्म….. :-)
हरे हरे…
घर मे पति पत्नी ओरा बच्चे है..ओरा पति पत्नी मे ही झगड़े है…घर मे कोई मुखिया नही बड़ा नही तो क्या करे?
घर के बच्चे पिता के पलंग के नीचे पानी का लोटा रखे, सुबह लोटा लेके उस मे देखे और माँ बाप को भी बोले कि बोलो, “नारायण नारायण…घर मे झगडे ना हो!” ….तो घर के झगडे एक चुल्लू भर पानी मे खत्म…
नारायण नारायण….. किस बात का झगड़ा है? :-) ..जय हो..
Listen Audio


-- 13th May 08, Dehradoon

Tuesday, May 13, 2008

शुध्द हवा

शरीर के लिए सबसे ज्यादा शुध्द हवा की जरुरत है..गाय के गोबर का कंडा जलाओ.. एक चम्मच घी डालकर धूप करो, जरा सा गाय का घी डालकर धूप करते तो घर मे शक्तिशाली वातावरण बन जाता है......वातावरण बहुत शुध्द होता है...बाजार का घी नही डालो....
-12th April 08, Sagar(M.P.)

गाय के खुर की मिट्टी

जिसका कामकाज सफल नही होता है , पत्नी गो-शाला मे जाकर गाय के खुर की मिट्टी लाये और पति को तिलक कर के पति काम पर जाये तो काम जरुर सफल होता है..गाय की ओरा बड़ी हितकारी होती है
Listen Audio


-11th May 08, Sagar(M.P.)

Monday, April 21, 2008

निरोगी व श्री सम्पन्न होने के लिये

ॐ हुं विष्णवे नमः

निरोगी व श्री सम्पन्न होने के लिये इस मन्त्र की एक माला रोज जप करें, तो आरोग्यता और सम्पदा आती हैं ।

For healthy and prosperous life

AUM HUM VISHNAVE NAMAH

For a healthy and prosperous life, recite one mala of this mantra everyday.

( गुरुपूनम अमदावाद २००५ के बापूजी के सत्संग से )

Thursday, April 17, 2008

समृद्धि बढ़ाने के लिए

  • बेटी की शादी करनी है तो सूर्य नारायण को अर्घ्य दिया करे और प्रार्थना करे की मेरी बेटी को वर-घर अच्छा मिले
  • कर्जा हो गया है तो अमावस्या के दूसरे दिन से पूनम तक रोज रात को चन्द्रमा को अर्घ्य दे, समृद्धि बढेगी
  • दीक्षा मे जो मन्त्र मिला है उस का खूब श्रध्दा से जप करना शुरू करे , जो भी समस्या है हल हो जायेगी

-12th April 08, Sagar(M.P.)

आंवला प्रयोग

आंवले का जूस पीना चाहिऐ, पेट की तकलीफे दूर होगी.. आंवले का powder ले लो रोज ..घोल बनाकर पीयो..तो पेट ठीक रहेगा..७ दिन लगातार पीयो…मूलाधार केन्द्र की शुद्धि होती है…..शरीर स्वस्थ रखने के ऐसे तरीके है… श्री कृष्ण ने गीता मे बताये है आहार विहार से स्वास्थ्य ठीक रखे…
-12th April 08, Sagar(M.P.)
अनुष्ठान के पहले आंवले का जूस रोज सुबह नाश्ते में लें 5-७ दिन , जिससे नाडियाँ शुद्ध रहें.
- Chetichand 2008 Shivir, Amdavad

 
Use of amla

One should drink amla juice, it will rid one of stomach ailments. Take amla powder everyday and take drink its concoction. Stomach will stay in good shape. Do this practice regularly for 7 days. It will cleanse the Muladhara centre. This is one of the keys to good health... Shri Krishna has mentioned in Bhagwad Gita that one should maintain good health through proper food and domestic routine.
-12th April 08, Sagar(M.P.)
Before anusthaan, take amla juice everyday in morning breakfast for 5-7 days so that all body nerves get purified.
- Chetichand 2008 Shivir, Amdavad

कोई भी कष्ट-मुसीबत

साधक के जीवन मे कोई भी कष्ट हो, मुसीबत हो तो शिव गीता का पाठ कराने से , अनुष्ठान करने से दूर होंगे उस की विधि मन्त्र अनुष्ठान पुस्तक मे लिखी है वैसा करे…

Read Here :-

GuruGita (Shiv Gita) In Hindi In English

मंत्र जाप महिमा एवं अनुष्ठान विधि PDF - 2

-13th April 08, Sagar(M.P.)

बेटी की शादी

अगर कोई कष्ट है तो ऐसा नही सोचना की ये कष्ट सदा रहेगा …
**** बेटी की शादी नही हो रही तो पिता गुड़ मिश्रित जल से सूर्य नारायण को अर्घ्य दे, बेटी की शादी जल्दी हो जायेगी…।
उत्तर दिशा मे मुख कर के “ॐ ह्रीं गौरियाय नमः” ये मन्त्र का जप करे तो शादी जल्दी होगी…घर वर अच्छा मिलेगा॥
***** बेटी को शादी के बाद ससुराल मे कोई कष्ट दे रहा है तो बेटी को सिखा दे की माघ, भाद्रपद और वैशाख मास की शुक्ल महीने की तृतीय को बिना नमक का भोजन गाय को खिलाये और प्रार्थना करे की अमुक व्यक्ति मुझे कष्ट देते है, उन को सदबुद्धि दे की मुझे कष्ट ना दे… “ॐ ह्रीं ॐ” मन्त्र का जप करे…… शिव गीता का पाठ करे…. तकलीफ मिट जायेगी….

-13th April 08, Sagar(M.P.)

अपशकुन से बचने के लिए

एक बार किसी प्रोग्राम मे जा रहे थे तो ड्राईवर गाड़ी थोडी तेज चला रहा था, इतने मे किसी बिल्ली ने रास्ता काट दीया ..तो driver बोला, ओह्ह्हो बिल्ली रास्ता काट गयी…. बिल्ली रास्ता कट गयी तो क्या हो गया? चूहा भी बिल्ली को देखकर छुपता है , क्यो कि वो डरता है..तो तुम तो चूहे नही हो, क्यो डरते ? ..डर लगता हो तो गहरा श्वास लेकर रोको महाम्रुन्तुंजय मन्त्र बोलो और श्वास बाहर छोडो…सारे अपशकुन दूर होंगे..उस दिन बडा अच्छा कार्यक्रम हुआ..बहुत आनंद आया…

महामृत्युंजय मंत्र -

ॐ हौं जूँ सः ॐ भूर्भुवः स्वः ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिं पुष्टिवर्धनम् उर्व्वारुकमिव बंधनान्मृत्योर्मुक्षीय मामृतात ॐ स्वः भुवः भूः ॐ सः जूँ हौं ॐ
om haum joom saha om bhoorbhuvaha svaha om trayambakam yajaamahe sugandhim pushtivardhnam urvvarukamiva bandhanaanmrityormuksheeya maamrataat om svaha bhuvaha bhooh om saha joom haum om

-13th April 08, Sagar(M.P.)

mathematics में अच्छा result लाने के लिए

कई बच्चे mathematics मे अछे नम्बर नही लाते तो कोई बोलते नौवें स्थान मे ये गृह बैठा होता पांचवे मे ये गृह जनम कुंडली मे होता …कारण ये नही है कि कुंडली में अमुक गृह बैठा है…कारण तो ये होता है कि कमजोर मनोबल , भय होता है….जीभ तालू मे लगाये और mathematics का अभ्यास करे… जीभ तालू मे लगाने से तो मानसिक संतुलन अच्छा बना रहेगा, पेपर solve करते समय मनोबल अच्छा रहेगा , भय नही रहेगा तो अच्छा result आएगा…..
-13th April 08, Sagar(M.P.)

घर की शोभा बढ़ाने के लिए

१. किसी का बुरा न माने , किसी का बुरा ना सोचे..तो घर स्वर्ग हो जायेगा

२ .आव नही, आदर नही, नही नयनन मे नेह
तुलसी वा घर ना जायियो चाहे कंचन बरसे गेह

आप के घर मे कोई आये तो उस को आदर दीजिये आप के घर की शोभा बढेगी..

३. "हे प्रभु आनंद दाता" ये प्रार्थना रोज घर मे सब मिलकर गाओ तो घर स्वर्ग हो जाये..
कंठस्थ करो....घर के झगडे दूर होंगे...।

हे प्रभु आनंद दाता यहाँ से पढ़ें - http://hariomgroup.net/hariombooks/poems/hindi/HePrabhuAnandData.htm



-13th April 08, Sagar(M.P.)


Thursday, March 27, 2008

For good Memory

जीभ को तालू में लगाके पढ़ो-सुनो , फ़िर उसे एक बार मन में दोहराओ तो पढ़ा हुआ याद रह जायेगा
-21st March 08, Holi Shivir, Surat

Monday, March 24, 2008

A Mantra useful in celibacy

Take some milk in a cup. While gazing at the milk, repeat the following mantra twenty-one times and thereafter drink the milk. This is an excellent aid to Brahmacharya. This Mantra is worth remembering by heart.


" ॐ नमो भगवते महाबले पराक्रमाय मनोभिलाषितं मनः सतंभ कुरु कुरु स्वाहा "


Om Namo Bhagavate Mahabale Parakramay manobhilashhitam Manah Satambh Kuru Kuru Svaha .


- From Youvan Suraksha

Tuesday, March 11, 2008

For happiness

कहीं कचरा या कुछ मरा हुआ जानवर या कुछ गंदा देख लिया तो अंतःकरण खिन्न होता है, इससे बचने के लिये सूर्य नारायण की, भगवान के मंदिर के कलश का या ध्वज दिखता हो तो दर्शन कर लो, खिन्नता नहीं आयेगी | भगवान का नाम ले लो |

-8th Feb08, Bhubaneshwar

Sunday, March 9, 2008

Mantra for Sound Sleep

शुद्धे शुद्धे महायोगिनी महानिद्रे स्वाहा

shuddhe shuddhe mahaayogini mahaanidre swaahaa


The japa of this mantra before going to bed ends the harrowing streak of your sleepless nights and ushers a propitious era of sound and refreshing sleep into your life
Listen Audio



Blow away the Impediments

  • tam’(टं) is a beej mantra, representing chandradeva, the presiding deity of the Moon. The japa of this mantra is just enough to do away with the sudden impediment inflicting your life.
  • Write ‘tam’(टं) on a piece of ‘Bhojpatra and insert it into an amulet. Then put this amulet on your right hand. This will remove all sorts of obstacles out of your way.
  • Just wear an amulet having in it the mantra, ‘tam’(टं)written eleven times on a piece of paper. This helps in cases of deficiency of calcium, poor lactation among women and also comes in handy in soothing a fretting child.

Anusthana of Saraswatya Mantra

Regular and sincere jap of Saraswatya mantra leads to the development of the intellect and memory

power beyond our imagination. The elevated lives of great many students initiated by Pujya Bapuji in the Saraswatya mantra bear a testimony to this.

If a student wants to make his life brilliant, vibrant and divine and to emerge out victorious in all fronts of life, he must observe an Anushthana of Saraswatya mantra. The procedure for the Anushthana is as follows:

  • The Anushthana of Saraswatya mantra is to be completed in seven days.
  • 170 rounds of mala are to be done each day.
  • One should wear only white clothes during these seven days.
  • One should take a saltless diet during the Anushthana. Khir prepared from milk and rice is recommended.
  • One should worship goddess Saraswati with white flowers before beginning the jap of the mantra. The Bhog offered to Goddess Saraswati should also be Khir.
  • One should pray to Maa Saraswati for a pure and sharp intellect.
  • One should sleep on the ground on a mat or a blanket and observe Mauna as much as possible.
  • Jap done on a mala of crystal beads is all the more beneficial.

Other rules regarding place, sleeping, purity, etc. are common to an Anushthana of other mantras. A detailed account of the guidelines and precautions for an Anushthana of mantras is given in the Hindi books Mantra-Jap Mahima evam Anushthana Vidhi and Ishtasiddhi published by the Ashram.

Lakshmi Barkat Mantra

अपने जीवन से विषाद को भगाने का पक्का इरादा करलो; और दरिद्रता भगानी हो तो फालतू खर्च न करो, व्याज भरकर गाडियाँ और मकान न बनाओ, और आय को बढाना हो, अथवा, बरकत लानी हो, तो एक मन्त्र बताता हूँ, ११ माला कुछ दिन तक जप करो, फिर 21बार जप करके पानी में देखो, और, बाँया नथुना चले, बाँया स्वर चले, दाँया नथुना बन्द करके वह पानी पी लिया करे|
ऐसे भी कोई पेय वस्तु दाँया नथुना चले तब पीते हैं, तो धातु कमज़ोर रहता है; अगर दाँया नथुना बंद करके बाँये नथुने से श्वास चलाकर पीते हैं, तो धातु मजबूत रहता है, तो ओज और बल बढ़ता है |
मंत्र है -
  • ॐ अच्युताय नमः
  • Om Achyutaaya Namah
जिसका पद कभी च्युत नहीं होता, इन्द्र पद भी च्युत हो जाता है, ब्रह्माजी का पद भी च्युत हो जाता है, लेकिन फिर भी, जो च्युत नहीं होते, अपने स्वभाव से, अपने आप से, वह परमेश्वर अच्युत को हम नमस्कार करते हैं...अच्युतम केशवं राम नारायणं..."
ॐ अच्युताय नमः - ११ माला जप करें कुछ दिन, फिर गुरूवार को २१ बार जप करे, और गुरूवार से गुरूवार तक ११ मालायें जप करे; २ गुरूवार करे, ४ गुरूवार करे, मतलब ४ सप्ताह, २ सप्ताह - "ॐ अच्युताय नमः, ॐ अच्युताय नमः..." - कुछ ही दिनों में यह मंत्र सिद्ध हो जायेगा, फिर, २१ बार जप करके वह पानी पिए |

For Court-cases related problems



पवनतनय बल पवन समाना
बुद्धि विवेक विज्ञान निधाना


pavantanaya bal pavan samaana


buddhi vivek vigyaan nidhaana


Do one mala daily of above mantra to get true results of court-cases. Keep your court related files in North-East direction not locked in Almirah.Keep the file in lotus feet of your beloved Ishta.


Listen Audio

For Job,Marriage related problems

  • घं काली कालीकायै नमः |
  • Om gham kaalee kaaleekaayai namah |

Japa this mantra to remove hurdles in marriage, job or other important occasions.

For problem-free Journey

  • ॐ नमो भगवते वासुदेवाय
  • om namo bhagvate vaasudevaay

Chant one mala of above mantra before starting your journey.